स्वास्थ के लिए योग
नमक की तरह योग को भी जीवन में शामिल करें - नरेन्द्र मोदी (प्रधानमंत्री)
योग का अर्थ एकता या बांधना है , यह संस्कृत शब्द युज से लिया गया है जिसका अर्थ है जुड़ना । योग व्यक्ति के सभी पहलुओ पर कार्य करता है भौतिक,मानसिक और आध्यात्मिक । आध्यात्मिक स्तर पर जुड़ने का अर्थ है सार्वभौमिक चेतना के साथ व्यक्तिगत चेतना का होना ।
योग चार प्रकार के होते है - राज योग, कर्म योग, भक्ति योग, ज्ञान योग ।
योग के नियम – किसी योग गुरु के देखरेख में योगाभ्यास आरम्भ करें । शूर्योदय अथवा सूर्यास्त के वक्त योग करने का सही समय है । आरामदायक सूती वस्त्र पहने, अपने शरीर के साथ जबरजस्ती बिल्कुल ना करें । अगर कोई मेडिकल तकलीफ हो तो डाक्टर से जरुर सलाह लें ।

-        राज यादव ( योग प्रशिक्षक )